• Incubated in : MCIIE, IIT-BHU, Varanasi
  • DIPPT Recognition No. : DIPP60278
  • UAM No. : UP75A0027532
  • IREPS ID : 1037742

Press

IIT-BHU Adds UVGI System In COVID-19 Lab

NEWS Web Link

 

Read More →
MCIIE Develops Cost Effective UVGI System To Fight Coronavirus

Varanasi, April 30 : The Malviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship (MCIIE) at the IIT-BHU has developed an ultraviolet germicidal irradiation (UVGI) system, which has been installed at the Covid-19 lab of the BHU Hospital for sanitisation. Prof P.K. Mishra, project coordinator, said, "Realising the urgent need to develop low-cost, multi-purpose instruments for effective sanitisation amid the coronavirus pandemic, the MCIIE came up with this ready-to-use UVC-based product. The centre has developed a wide range of UVC systems and our advanced systems assure elimination of biological contaminants, like viruses, bacteria, spores and allergens, by effectively treating moving air with UVC radiation." As per the latest research, UVC light-based sterilizer can kill a range of micro-organisms, like viruses (including SARS syndrome, coronavirus and Nipah virus) and bacteria in a short time. The system has a series of UV lamps (depending upon size of place of installation), each having 22 watts capacity. According to Mishra, any virus can be deactivated up to 99 per cent by the UVGI dose of 2,400 microwatt sec/cm square. This system can produce UVGI dose of more than 2,400 microwatt sec/cm square to ensure complete inactivation of coronavirus. It also works on auto timer and its visual red/green indicator ensures safety of the user against the UV dose. The system can be used in hospitals, operation theatres, ICUs and IVF labs, microbiological labs, special wards, dental facilities, laboratories, pharmaceutical units and patient care wards. /IANS

NEWS Web Link

https://www.dailyworld.in/news-detail.php?seq=21895&news=MCIIE%20develops%20low-cost%20UVGI%20system%20to%20fight%20coronavirus

Read More →
IIT BHU MCIIE Allywing Solutions Develops Low-cost UVGI System To Fight Coronavirus

The Malviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship at the IIT-BHU has developed an ultraviolet germicidal irradiationsystem, which has been installed at the  lab of the BHU Hospital for sanitisation.
Prof P.K. Mishra, project coordinator, said, "Realising the urgent need to develop low-cost, multi-purpose instruments for effective sanitisation amid the  pandemic, the MCIIE came up with this ready-to-use UVC-based product. The centre has developed a wide range of UVC systems and our advanced systems assure elimination of biological contaminants, like viruses, bacteria, spores and allergens, by effectively treating moving air with UVC radiation."As per the latest research, UVC light-based sterilizer can kill a range of micro-organisms, like viruses (including SARS syndrome, coronavirus and Nipah virus) and bacteria in a short time.The system has a series of UV lamps (depending upon size of place of installation), each having 22 watts capacity.It also works on auto timer and its visual red/green indicator ensures safety of the user against the UV dose.The system can be used in hospitals, operation theatres, ICUs and IVF labs, microbiological labs, special wards, dental facilities, laboratories, pharmaceutical units and patient care wards. 
 
NEWS Web Link
 

Read More →
MCIIE Develops UVGI System To Fight Coronavirus

Varanasi, April 30 (SocialNews.XYZ) The Malviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship (MCIIE) at the IIT-BHU has developed an ultraviolet germicidal irradiation (UVGI) system, which has been installed at the Covid-19 lab of the BHU Hospital for sanitisation.

Prof P.K. Mishra, project coordinator, said, "Realising the urgent need to develop low-cost, multi-purpose instruments for effective sanitisation amid the coronavirus pandemic, the MCIIE came up with this ready-to-use UVC-based product. The centre has developed a wide range of UVC systems and our advanced systems assure elimination of biological contaminants, like viruses, bacteria, spores and allergens, by effectively treating moving air with UVC radiation."

 

As per the latest research, UVC light-based sterilizer can kill a range of micro-organisms, like viruses (including SARS syndrome, coronavirus and Nipah virus) and bacteria in a short time.

The system has a series of UV lamps (depending upon size of place of installation), each having 22 watts capacity.

According to Mishra, any virus can be deactivated up to 99 per cent by the UVGI dose of 2,400 microwatt sec/cm square. This system can produce UVGI dose of more than 2,400 microwatt sec/cm square to ensure complete inactivation of coronavirus.

It also works on auto timer and its visual red/green indicator ensures safety of the user against the UV dose.

The system can be used in hospitals, operation theatres, ICUs and IVF labs, microbiological labs, special wards, dental facilities, laboratories, pharmaceutical units and patient care wards.

Source: IANS

NEWS Web Link

https://www.socialnews.xyz/2020/04/30/mciie-develops-low-cost-uvgi-system-to-fight-coronavirus/

Read More →
IIT-BHU Installs UVGI System For Effective Sanitation

Varanasi: An Ultraviolet Germicidal Irradiation (UVGI) system developed at the Malaviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship (MCIIE) of IIT-BHU has been installed in the COVID lab of the BHU hospital for sanitization.
“Realizing the urgent need to develop low-cost, multi-purpose instruments for effective sanitization amid the coronavirus pandedmic, the MCIIE came up with innovative ready-to-use UVC-based products,” said the coordinator Prof PK Mishra. The centre has developed a wide range of UVC systems, he said adding, “Our advanced systems assure the elimination of biological contaminants such as viruses, bacteria, spores and allergens by effectively treating moving air with UVC radiation”. As per latest research, UVC light-based sterilizer can kill a range of microorganisms such as viruses (including SARS syndrome coronavirus and nipah virus) and bacteria in a short period. Mishra said that the system has a series of UV lamps (depending on size of place of installation), each having a capacity of 22 watts.

 

According to him, any virus can be deactivated up to 99% by the UVGI dose of 2400 microwatt sec/cm square. However, this system can produce UVGI dose of more than 2400 microwatt sec/cm square to ensure complete inactivation of coronavirus. This system also works on auto timer, and its visual red/green indicator ensures safety of the user against the UV dose.
The system can be used in hospitals, operation theatres, ICU and IVF labs, microbiological labs, special wards, dental facilities, laboratories, pharmaceutical units, patient care wards.

NEWS Web Link

https://timesofindia.indiatimes.com/city/varanasi/iit-bhu-installs-uvgi-system-for-effective-sanitation/articleshow/75457436.cms

Read More →
MCIIE Develops Low-cost UVGI System To Fight Coronavirus

MCIIE develops low-cost UVGI system to fight coronavirus

Varanasi, April 30 (IANS) The Malviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship (MCIIE) at the IIT-BHU has developed an ultraviolet germicidal irradiation (UVGI) system, which has been installed at the Covid-19 lab of the BHU Hospital for sanitisation.

Prof P.K. Mishra, project coordinator, said, "Realising the urgent need to develop low-cost, multi-purpose instruments for effective sanitisation amid the coronavirus pandemic, the MCIIE came up with this ready-to-use UVC-based product. The centre has developed a wide range of UVC systems and our advanced systems assure elimination of biological contaminants, like viruses, bacteria, spores and allergens, by effectively treating moving air with UVC radiation."

As per the latest research, UVC light-based sterilizer can kill a range of micro-organisms, like viruses (including SARS syndrome, coronavirus and Nipah virus) and bacteria in a short time.

The system has a series of UV lamps (depending upon size of place of installation), each having 22 watts capacity.

According to Mishra, any virus can be deactivated up to 99 per cent by the UVGI dose of 2,400 microwatt sec/cm square. This system can produce UVGI dose of more than 2,400 microwatt sec/cm square to ensure complete inactivation of coronavirus.

It also works on auto timer and its visual red/green indicator ensures safety of the user against the UV dose.

The system can be used in hospitals, operation theatres, ICUs and IVF labs, microbiological labs, special wards, dental facilities, laboratories, pharmaceutical units and patient care wards.

--IANS

NEWS Web Link

https://www.outlookindia.com/newsscroll/mciie-develops-lowcost-uvgi-system-to-fight-coronavirus/1819537

Read More →
Coronavirus In India : अल्ट्रावायलेट किरणें बनेंगी कोरोना वायरस योद्धाओं की मददगार

वाराणसी [मुहम्मद रईस]। डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ जहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज करने में जुटे हैं, तो वहीं पुलिस गली-गली में मुस्तैद है। असल में ये कोरोना योद्धा घर-परिवार की फिक्र छोड़ मैदान-ए-जंग में इसलिए कूदे हैं कि आमजन अपने घरों में ही महफूज रहें। अब आइआइटी-बीएचयू ने अल्ट्रावायलेट किरणों को भी इन योद्धाओं की मददगार बना जंग को थोड़ा आसान बना दिया है। आइआइटी-बीएचयू स्थित महामना सेंटर फार इनोवेशन इन्क्यूबेशन एंड इंटरप्रेन्योरशिप के इन्क्यूबेटी गौरव सिंह ने सेंटर के चेयरमैन व केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के हेड प्रो. पीके मिश्रा के सहयोग से ऐसा उपकरण तैयार किया है, जो मोबाइल, पर्स, की-रिंग आदि को न सिर्फ पूरी तरह संक्रमण मुक्त कर देगा, बल्कि खराब भी नहींहोने देगा। यह उपकरण अल्ट्रावायलेट-सी किरण सिद्धांत पर आधारित है। इससे हर तरह के बैक्टीरिया एवं वायरस पलक झपकते ही समाप्त हो जाते हैं।

 

इस तरह तैयार हुआ उपकरण

15 दिन के मंथन व तीन दिनों की मेहनत के बाद यह उपकरण पूरी तरह तैयार हुआ, जिसे बनाने में करीब पांच हजार रुपये खर्च हुए। माइक्रोवेब ओवन की बॉडी का इस्तेमाल करते हुए ऊपर से नीचे की तरफ अल्ट्रावायलेट-सी ट्यूब को लगाया गया है। टाइमर की मदद से मशीन का संचालन नियंत्रित किया जाता है। हाल ही में इस प्रोजेक्ट को काउंसिल ऑफ इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की सूची में शामिल किया गया।

 

इस तरह आएगा काम 

कोरोना संक्रमण के मौजूदा हालात में ऑफिस या फील्ड में किसी भी वस्तु को छूने से पहले व बाद में हाथों को सैनिटाइज कर लिया जाता है। लोग मास्क का प्रयोग भी करते हैं। घर पहुंचने पर कपड़ों को एक किनारे रख स्नान कर खुद को संक्रमण मुक्त भी कर लेते हैं। मगर जेब में रखा पर्स, सनग्लास, मोबाइल, बाइक या कार की चाबी आदि सैनिटाइज नहीं हो पाती। ऐसे में कोरोना वायरस से हम पूरी तरह सुरक्षित नहीं हो पाते। इसी को ध्यान में रखते हुए यह उपकरण बनाया गया है। माइक्रोवेब को चालू करते ही अल्ट्रावायलेट-सी किरणें इसमें रखी वस्तुओं में छिपे बैक्टीरिया या वायरस को पूरी तरह समाप्त कर देती हैं। सबसे जरूरी बात इसमें रखकर सैनिटाइज करने के दौरान इलेक्ट्रानिक उपकरण मसलन मोबाइल, घड़ी, आईपॉड आदि बिल्कुल भी खराब भी नहीं होते।

 

बनेगा कोरोना योद्धाओं का हथियार 

प्रो. पीके मिश्रा के मुताबिक यह उपकरण कोरोना मरीजों के इलाज में लगे डाक्टर, पैरा-मेडिकल स्टाफ, नर्सिग स्टाफ सहित लॉकडाउन का पालन करा रहे पुलिसकर्मियों के लिए बहुत ही कारगर है। इस उपकरण को जल्द बाजार में उपलब्ध कराने की कोशिश की जा रही है, ताकि कोरोना से जंग लड़ रहे हमारे योद्धा घर पहुंचकर भी न केवल महफूज रहें, बल्कि उनका परिवार भी सुरक्षित रहे।

 

NEWS Web Link

https://m.jagran.com/lite/uttar-pradesh/varanasi-city-ultraviolet-rays-help-corona-warrior-20188894.html

Read More →
BHU की खोज: चार पहिया वाहनों को संक्रमण मुक्त करेंगी यूवी किरणें

 
 
आईआईटी बीएचयू ने अब वाहनों को संक्रमण मुक्त करने के लिए अल्ट्रावायलेट डिवाइस तैयार की है। इससे कुछ ही मिनट में चार पहिया वाहन को घातक संक्रमण से मुक्त किया जा सकता है। यह खासकर एम्बुलेंस या ऐसे अन्य सेवा वाहनों के लिए काफी कारगर साबित होगा।
 
आज वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस से बचाव का एकमात्र उपाय सफाई और सामाजिक दूरी बनाये रखना है। आईआईटी बीएचयू के मालवीय उद्यमिता संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र स्थित एलॉयविंग सॉल्यूशन प्राइवेट लिमटेड के गौरव सिंह ने यूवीसी वेहिकल स्टर्लाइजर का निर्माण किया है। यह स्टर्लाइजर सभी चार पहिया वाहनों में लगाया जा सकता है। इससे सार्स सिंड्रोम कोरोना वायरस, निपाह वायरस और क्रीमियन-कोंगो हेमोरेजिक बुखार के कारक वायरस को खत्म किया जा सकता है।
 
यह कोरोना योद्धाओं और फ्रंट पर इसका मुकाबला कर रहे लोगों के लिए उपयोगी है। चिकित्सकों, पुलिस, आर्मी के अलावा स्वयंसेवी संस्थाओं के वाहनों को वायरस से मुक्त करने के लिए उपयोगी साबित हो सकता है। मालवीय उद्यमिता संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र के समनवयक व केमिकल इंजीनियरिंग के प्रो. पीके मिश्रा ने बताया कि वर्तमान में वाहनों को सेनेटाइज करने के लिए स्प्रे कीटाणुनाशक का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसे पोंछने की भी आवश्यकता है।
 
 
इन कीटनाशक का ज्यादा इस्तेमाल मानव शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि यूवीसी वेहिकल स्टर्लाइजर द्वारा पराबैंगनी कीटाणुशोधन विकिरण का उपयोग लोगों और कपड़ों को नुकसान पहुंचाए बिना चार पहिया वाहनों एम्बुलेंस, कार, जीप आदि को अधिकतर हानिकारक वायरस से मुक्त कर सकता है। स्टर्लाइजर को वाहन के अंदर क्रियान्वित करने के लिए 12 वोल्ट की बिजली की जरूरत होगी। 
 
आईआईटी बीएचयू के केमिकल इंजीनियरिंग के प्रो. पीके मिश्र का कहना है कि आईआईटी अपने सामाजिक दायित्वों का निवर्हन करते हुए कोरोना वायरस से लड़ने को पूरी तरह तैयार है। इस तरह की सभी जरूरतों के लिए प्रशासन का सहयोग करने को पूरी तरह तत्पर है।
 
NEWS Web Link
 

Read More →
आईआईटी BHU की खोज: चार पहिया वाहनों को संक्रमण मुक्त करेंगी यूवी किरणें

आईआईटी बीएचयू ने अब वाहनों को संक्रमण मुक्त करने के लिए अल्ट्रावायलेट डिवाइस तैयार की है। इससे कुछ ही मिनट में चार पहिया वाहन को घातक संक्रमण से मुक्त किया जा सकता है। यह खासकर एम्बुलेंस या ऐसे अन्य सेवा वाहनों के लिए काफी कारगर साबित होगा।

आज वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस से बचाव का एकमात्र उपाय सफाई और सामाजिक दूरी बनाये रखना है। आईआईटी बीएचयू के मालवीय उद्यमिता संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र स्थित एलॉयविंग सॉल्यूशन प्राइवेट लिमटेड के गौरव सिंह ने यूवीसी वेहिकल स्टर्लाइजर का निर्माण किया है। यह स्टर्लाइजर सभी चार पहिया वाहनों में लगाया जा सकता है। इससे सार्स सिंड्रोम कोरोना वायरस, निपाह वायरस और क्रीमियन-कोंगो हेमोरेजिक बुखार के कारक वायरस को खत्म किया जा सकता है।

यह कोरोना योद्धाओं और फ्रंट पर इसका मुकाबला कर रहे लोगों के लिए उपयोगी है। चिकित्सकों, पुलिस, आर्मी के अलावा स्वयंसेवी संस्थाओं के वाहनों को वायरस से मुक्त करने के लिए उपयोगी साबित हो सकता है। मालवीय उद्यमिता संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र के समनवयक व केमिकल इंजीनियरिंग के प्रो. पीके मिश्रा ने बताया कि वर्तमान में वाहनों को सेनेटाइज करने के लिए स्प्रे कीटाणुनाशक का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसे पोंछने की भी आवश्यकता है।

इन कीटनाशक का ज्यादा इस्तेमाल मानव शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि यूवीसी वेहिकल स्टर्लाइजर द्वारा पराबैंगनी कीटाणुशोधन विकिरण का उपयोग लोगों और कपड़ों को नुकसान पहुंचाए बिना चार पहिया वाहनों एम्बुलेंस, कार, जीप आदि को अधिकतर हानिकारक वायरस से मुक्त कर सकता है। स्टर्लाइजर को वाहन के अंदर क्रियान्वित करने के लिए 12 वोल्ट की बिजली की जरूरत होगी। 

आईआईटी बीएचयू के केमिकल इंजीनियरिंग के प्रो. पीके मिश्र का कहना है कि आईआईटी अपने सामाजिक दायित्वों का निवर्हन करते हुए कोरोना वायरस से लड़ने को पूरी तरह तैयार है। इस तरह की सभी जरूरतों के लिए प्रशासन का सहयोग करने को पूरी तरह तत्पर है।

NEWS Web Link

https://www.livehindustan.com/uttar-pradesh/varanasi/story-bhu-iit-discovered-uv-rays-will-make-infection-free-for-four-wheelers-3165192.html

Read More →
#Covid_19 : IIT BHU के नव प्रवर्तन केंद्र में बनी UVC तकनीक से वाहन भी हो सकेंगे स्टरलाइज

#Varanasi : वर्तमान में वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस से बचाव एकमात्र साफ-सफाई और सामजिक दूरी बनाये रखना है। संस्थान के मालवीय उद्यमी संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र स्थित Allywing Solutions Pvt Ltd. के गौरव सिंह ने इसी अवधारणा पर काम करते हुए यूवीसी वेहिकल स्टरलाइजर का निर्माण किया है। यह स्टरलाइजर सभी चार पहिया वाहनों में लगाया जा सकता है। इससे सार्स सिंड्रोम कोरोनावायरस, निपाॅह वायरस और क्रीमियन-कोंगो हेमोरेजिक बुखार का कारक वायरस को खत्म किया जा सकता है। ऐसे स्टरलाइजर कोरोना वारियर्स के रूप में कार्य कर रहे चिकित्सकों, पुलिस, आर्मी और स्वयं सेवी संस्थाओं के वाहनों को कई वायरस के खात्मे के लिए उपयोगी साबित हो सकता है।
इस संदर्भ में जानकारी देते हुए मालवीय उद्यमी संवर्धन एवं नवप्रवर्तन केंद्र के समनवयक व केमिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर पीके मिश्रा ने बताया कि वर्तमान में वाहनों को सैनिटाइज करने के लिए स्प्रे कीटाणुनाशक का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसे पोंछने की भी आवश्यकता है। इन कीटनाशक का ज्यादा इस्तेमाल मानव शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि यूवीसी वेहिकल स्टरलाइजर द्वारा पराबैंगनी कीटाणुशोधन विकिरण का उपयोग लोगों और कपड़ों को नुकसान पहुंचाए बिना चार पहिया वाहनों एम्बुलेंस, कार, जीप आदि को अधिकतर हानिकारक वायरस से मुक्त कर सकता है। यह स्टरलाइजर वाहन के अंदर मात्र 44w की यूवीसी क्षमता पर कार्य करता है और 12v पर संचालित होता है। संस्थान के निदेशक प्रोफेसर प्रमोद कुमार जैन ने बताया कि संस्थान अपनी सामाजिक दायित्वों का निवर्हन करते हुए कोरोना वायरस से से लड़ने को पूरी तरह तैयार है और इस तरह की सभी जरूरतों के लिए प्रशासन का सहयोग करने को पूरी तरह तत्पर है। 
 
NEWS Web Link

Read More →
Multi-utility Sterilization Chamber For Mobiles, Keys

Varanasi: Gaurav Singh incubated company (Allywing Solutions Pvt. Ltd.)  of Malaviya Centre for Innovation, Incubation and Entrepreneurship (MCIIE), IIT BHU has developed a low-cost multi-utility sterilization “These things are is generally not being sterilized by even those who are at high risk of infection from corona such as health, sanitation and security personnel,” said coordinator Prof PK Mishra. Explaining its features, Mishra said that a cabinet based on the principle of UV germicidal irradiation using C band of ultraviolet (UV) radiation has been developed by this incubated company. The device has two UV lamps having a capacity of 21 watts. 
“Any virus can be deactivated up to 99% by the ultraviolet germicidal irradiation (UVGI) dose of 2,400 microwatt.sec/cm2,” he claimed adding that the device ensures complete inactivation of corona virus. This device is also working on auto timer to ensure the safety of user against the UV dose. The air circulation within the cabinet ensures complete exposer to incident UV radiation
 
NEWS Web Link

Read More →
घड़ी, बेल्ट और पर्स सहित अन्य जरूरी साम

बीएचयू आईआईटी के साथ मिलकर काम करने वाले गौरव ने माइक्रोवेव की तरह एक मशीन बनाई है, जिसमें अल्ट्रा वॉयलेट रेस से वायरस का खात्मा का दावा किया गया है

देश में कोरोना वायरस से के बढ़ते खतरे कप देखते हुए बीएचयू आईआईटी ने एक ऐसी मशीन का अविष्कार किया है जिससे छोटी-छोटी चीजें भी सेनेटाइज हो जाएंगी। यह मशीन उन लोगों की सुरक्षा को देखते हुए बनाई गई है जो इमरजेंसी सेवा में लगे हुए हैं। ताकि वायरस से किसी तरह का खतरा न हो सके। इस मशीन को जल्द बाजार में भी उतारने की तैयारी है।

आईआईटी बीएचयू ने शोध में पाया की कर्मचारियों, डॉक्टर और अधिकारी समेत तमाम ऐसे लोग हैं जो खुद तो सेनेटाइजर से बचाव कर पाते हैं, लेकिन इनकी उपयोगी चीजें जैसे बेल्ट, घड़ी, पर्स, चाभी, अंगूठी इत्यादि इत्यादि सामग्री सेनेटाइज नहीं हो पाती जिससे इन्हें इस संक्रमण का खतरा बना रहता है। इसके लिए बीएचयू आईआईटी के साथ मिलकर काम करने वाले गौरव ने माइक्रोवेव की तरह एक मशीन बनाई है, जिसमें अल्ट्रा वॉयलेट रेस से वायरस का खात्मा का दावा किया गया है। इसे बनाने में दो से तीन दिन लगा है।

मशीन को बनाने वाले गौरव बताते हैं की यह अल्ट्रावायलेट किरणों से कोरोना के वायरस को मार देगी। यह मशीन सी कैटोगरी की अल्ट्रावायलेट किरणें छोड़ती हैं। कोई भी वायरस इसमें 10 से 15 मिनट तक जिंदा नहीं रह सकता। इस मशीन में एक पंखा भी लगा है जो वायरस को रोटेट करके किरणों के नजदीक लाने का काम करता है। बीएचयू आईआईटी के प्रोफेसर डॉ. पी के मिश्रा ने बताया कि इस मशीन को बड़े पैमाने पर मार्केट में लाने के लिए पहल की जा रही है। यह कम लागत में इजाद की हुई एक बढ़िया मशीन है, जिसे डॉक्टर, पुलिस विभाग, सफाई विभाग अपने कर्मचारियों को इस संक्रमण के खतरे से बचाने में मददगार साबित होंगे। निश्चित ही यह मशीन कारगर है।

NEWS Web Link

https://www.patrika.com/varanasi-news/bhu-iit-event-new-machine-for-sanitization-5980130/

Read More →
कोरोना अपडेट: BHU IIT का नया अविष्कार, कोरो

वाराणसी। देश में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। लोग अपनी सुरक्षा के लिए पूरा इंतज़ाम कर रहे हैं। लेकिन हमारी रोजमर्रा की कुछ चीजे ऐसी हैं जिनका इस्तेमाल हम रोजाना ही करते हैं। हालांकि अभी लॉकडाउन के चलते लोग घरों में हैं लेकिन जो हमारे लिए बाहर हैं,हमारी सुरक्षा के लिए अस्पतालों आदि में अपनी ड्यूटी कर रहे हैं उनका क्या? उन्हीं लोगों को ध्यान में रखते हुए बीएचयू आईआईटी ने एक अविष्कार किया है जिससे  छोटी छोटी चीजें भी सेनिटाइज हो जाएंगी।

बता दें कि कोरोना के बढ़ते प्रभाव के बीच बीएचयू ने एक मशीन है। ये मशीन उन लोगों के सुरक्षा को देखते हुए बनाया है जो इमरजेंसी सेवा में लगे हुए हैं जैसे कि कर्मचारियों, डॉक्टर और अधिकारी। दरअसल इस मशीन का उपयोग बेल्ट, घड़ी, पर्स, चाभी इत्यादि सामग्री को सेनिटाइज करने के लिए बनाया गया है। लॉक डाउन के बीच इमरजेंसी सेवा से जुड़े लोग घर आने के बाद नहाकर कपड़े धुल लेते हैं लेकिन छोटी-छोटी चीजे नहीं धुल पाते  इस कारण संक्रमण का खतरा बना रहता है। इसके लिए बीएचयू आईआईटी के साथ मिलकर काम करने वाले गौरव ने एक माइक्रोवेव की तरह एक मशीन बनाई है। जिसमे अल्ट्रा वॉयलेट रेस से वायरस का खात्मा का दावा किया है।

मशीन इजाद करने वाले गौरव ने बताया कि इस मशीन को बनाने में केवल दो से तीन दिन लगा है।  यह अल्ट्रावायलेट किरणों से कोरोना के वायरस को मार देगी। यह मशीन सी कैटोगरी की अल्ट्रावायलेट किरणे छोड़ती है जो आम इंसान के साथ-साथ कीटाणु और वायरस के लिए खतरनाक होती है। कोई भी वायरस इसमें 10 से 15 मिनट तक जिंदा नही रह सकता। इस मशीन में एक पंखा भी लगा है जो वायरस को रोटेट करके किरणों के नजदीक लाने का काम करता है। मशीन में अल्ट्रावायलेट रेज के लिए 2 लाइट लगीं हैं। साथ ही इसमें टेम्प्रेचर और सिलेक्टर के माध्यम इसमें सेटिंग की जा सकती है।

वहीं बीएचयू आईआईटी के प्रोफ़ेसर डॉ पी के मिश्रा ने बताया कि मालवीय उधमिता संवर्धन केंद्र से मिलकर गौरव ने एक मशीन बनाई है जिससे यह छोटी-छोटी चीजें सैनिटाइज हो जाएंगे। मशीन अल्ट्रावायलेट रेस की पद्धति पर काम करती है जो सी कैटेगरी की रेज का निर्माण करती है और वायरस को खत्म करने में कारगर साबित है।

बीएचयू आईआईटी ने अब इसके लिए तैयारी करनी शुरू कर दी है और इसे बड़े पैमाने पर मार्केट में लाने के लिए पहल की जा रही है। यह कम लागत में इजाद  किया हुआ एक बढ़िया मशीन है जिसे डॉक्टर, पुलिस विभाग, सफाई विभाग अपने कर्मचारियों को इस संक्रमण के खतरे से बचाने में मददगार साबित होंगे। निश्चित ही यदि या मशीन कारगर साबित है तो कोरोना वायरस के बढ़ते कदम को रोकने के लिए और इमरजेंसी सेवा में लगे हुए लोगों के लिए यह एक अच्छी खबर है जिससे वह संक्रमण से पूरी तरीके से बचने में सफलता हासिल कर सकेंगे।

NEWS Web Link

https://nationalvision.news/corona-update-bhu-iits-new-invention-will-help-fight-corona-in-varanasi/

Read More →
पराबैगनी कैबिनेट करेगी कोरोना का खात

NEWS Web Link

https://epaper.livehindustan.com/imageview_30075_88313538_4_1_08-04-2020_10_i_1_sf.html

Read More →
IIT (BHU) Developed UVC Sterilizer

Varanasi: An incubated company of MCIIE, IIT BHU has developed a low cost multi utility sterilization chamber for essential belongings such as Mobile, purse, key, belt.

“These things are generally not sterilized by even those who are at high risk of infection from corona such as health, sanitation and security personnel,” said Prof PK Mishra, Coordinator, MCIIE and mentor of the project.

According to him, a cabinet based on the principle of UV germicidal irradiation using C band of UV radiation has been developed by this incubated company owned by Gaurav Singh. The device has two UV lamps having capacity 21 watts. Any virus can be deactivated up to 99% by the UVGI dose of 2400 microwatt.sec/cm2.

The device ensures the dose in excess of this to ensure complete inactivation of corona virus. This device is also working on auto timer to ensure the safety of user against the UV dose. This device will be available in the price range of approx. Rs 5000 and can be used by common man to ensure safety from deadly virus. The air circulation within the cabinet ensures complete exposer to incident UV radiation.

NEWS Web Link

http://newsbasket.in/iit-bhu-developed-uvc-sterilizer/

Read More →
IIT-BHU, MCIIE Incubetee Gaurav Singh Develops UVC Sterilizer To Sanitize Accessories Like Mobile Ph

IT-BHU, MCIIE develops sterilizer to sanitize accessories like mobile phone, wallet, wrist watch

This is an electricity operated sterilizer and produces ultraviolet rays which kill the microorganism like virus, bacteria and function on the surface of mobile and other accessories within five to six minutes after these items are placed inside it.

Malaviya Centre for Innovation Incubation and Entrepreneurship (MCIIE), IIT-BHU has developed a UVC sterilizer to sanitize personal accessories, including mobile phone, wallets, vehicle key, pen and wristwatch.

Prof PK Mishra, who heads the MCIIE, IIT-BHU, said that the sterilizer is using UV radiation of C band. This is an electricity operated sterilizer and produces ultraviolet rays which kill the microorganism like virus, bacteria and function on the surface of mobile and other accessories within five to six minutes after these items are placed inside it. The UV GI dose required for killing corona virus is approximately 2400 micro watt.sec/cm2. The cabinet ensures the irradiation more than required in the range of 4000 micro watt.sec/cm2.

Prof Mishra said that it is advised to put the accessories like key, mobile phones in the sterilizer and set the timer for 5-6 minutes so that it automatically switches off after killing germs.

Prof Mishra said that Gaurav Singh, an Incubetee at MCIIE, IIT-BHU has developed the sterilizer within three days. Its trial has been successfully.

Guarav Singh said that it would cost between Rs 4,000 and Rs 5000. It can be widely used by hospitals, operation theatres, isolation wards, health workers, sanitation workers, police personnel, houses, hotels and hostels. He is now working to develop a sterilizer for the ambulances.

 

 

https://www.hindustantimes.com/education/iit-bhu-mciie-develops-sterilizer-to-sanitize-accessories-like-mobile-phone-wallet-wrist-watch/story-QvlppQbEv4xvnVyQlcm9VK.html

Read More →
IIT-BHU, MCIIE Incubetee Gaurav Singh Develops UVC Sterilizer To Sanitize Accessories Like Mobile Ph

This is an electricity operated sterilizer and produces ultraviolet rays which kill the microorganism like virus, bacteria and function on the surface of mobile and other accessories within five to six minutes after these items are placed inside it.

 
Malaviya Centre for Innovation Incubation and Entrepreneurship (MCIIE), IIT-BHU has developed a UVC sterilizer to sanitize personal accessories, including mobile phone, wallets, vehicle key, pen and wristwatch.

 

rof PK Mishra, who heads the MCIIE, IIT-BHU, said that the sterilizer is using UV radiation of C band. This is an electricity operated sterilizer and produces ultraviolet rays which kill the microorganism like virus, bacteria and function on the surface of mobile and other accessories within five to six minutes after these items are placed inside it. The UV GI dose required for killing corona virus is approximately 2400 micro watt.sec/cm2. The cabinet ensures the irradiation more than required in the range of 4000 micro watt.sec/cm2.

Prof Mishra said that it is advised to put the accessories like key, mobile phones in the sterilizer and set the timer for 5-6 minutes so that it automatically switches off after killing germs.

Prof Mishra said that Gaurav Singh, an Incubetee at MCIIE, IIT-BHU has developed the sterilizer within three days. Its trial has been successfully.

Guarav Singh said that it would cost between Rs 4,000 and Rs 5000. It can be widely used by hospitals, operation theatres, isolation wards, health workers, sanitation workers, police personnel, houses, hotels and hostels. He is now working to develop a sterilizer for the ambulances.

Read More →
Allywing Smart Podium

Allywing Smart Podium is a quality combination of smart features, contemporary design at a vry competitive price point. Power packed with ultra-modern features, it helps to keep the technology organized and hands-on. The Allywing Smart Podium is a comprehensive All in One presentation device combining virtues of interactivity, audio, computing, switching & controlling. It has ample space & cabinets to keep your laptops, books and other material organized and safe. This podium also has a separate space for Visualizer to help showing documents & objects on a wider base. Its been designed keeping in mind the Indian environment with lock & key to lock the complete solution safely. Also, the integrated PC with touch feature includes interactive software to make meetings & lectures interactive & productive.
 
Allywing Smart Podium streamlines communication, collaboration & productivity by integrating constructive tools into single presentation platform.
 
  • All in one presentation tool with a spectacular & world class look
  • Indigenous Design, Free standing, Rugged Body & Highly durable
  • Caster wheels with lock facility for ease of movement & safety.
  • Front Acrylic sheet customizable as per the user’s logo
  • Built-in highly sensitive Interactive Panel with adjustable tilt to allow the stability of panel and better visibility
  • Finger & Stylus touch panel for smooth & precise input writing experience. Annotation software with features to annotate, write, erase, draw, print, save etc
  • Space/cabinet to accommodate Book(s)/Laptop/Visualizer/ Keyboard/Mouse or extra presentation material
  • Audio system provided
  • Includes Gooseneck, Handheld/ Collar wireless Microphone, Receiver, Amplifier & Speakers.
  • Exhaust fans to maintain efficient cooling mechanism
  • High performance In-Built PC
  • Comes with different ways to restrict unauthorized access - Keys & locks.
  • Annotation software with features to annotate, write, erase, draw, print, save etc.
  • Allywing Smart Podium are the perfect addition in your Classroom/Meeting/Training room to inspire & transform the regular, monotonous presentation into vivid, interesting & interactive session. Our comprehensive range of AV lecterns are designed to accommodate all types of room space, including small to medium sized teaching rooms, large lecture theatres, agile workspaces, presentation rooms, meeting rooms etc.

Read More →
Facebook Google LinkedIn Twitter