Blog

BHU Ex Student Gaurav Singh Has Developed Oxygen Concentrator

by Admin

Posted on May 30, 2021 at 8:31 AM

बीएचयू के पूर्व स्टूडेंट और युवा इनोवेटर गौरव ने देसी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर तैयार किया है। गौरव ने बताया कि डेढ़ महीने में 61 हजार रुपये की लागत से इसको तैयार किया गया है। गौरव ने बताया कि जल्द ही ये ऑक्सिजन कंसंट्रेटर बाजार में उपलब्ध होगा।

अभिषेक जायसवाल, वाराणसी
कोरोना की दूसरी लहर के बीच पूरा देश ऑक्सिजन की किल्लत से जूझ रहा था। अस्पतालों में ऑक्सिजन की कमी को दूर करने के लिए कहीं ऑक्सिजन प्लांट लगाए गए तो कहीं विदेश से ऑक्सिजन कंसंट्रेटर मंगाया गया। इन सब के बीच बीएचयू के पूर्व स्टूडेंट और युवा इनोवेटर गौरव सिंह ने देसी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर तैयार किया है।

एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में गौरव सिंह ने बताया कि इस देसी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर की क्षमता 15 एलएमपी है, जिससे एक साथ तीन मरीजों को ऑक्सिजन उपलब्ध कराया जा सकता है। इस ऑक्सिजन कंसंट्रेटर को बनाने में डेढ़ महीने का समय लगा है और करीब 61 हजार रुपये की लागत आई है।


बाजार में है डेढ़ लाख रुपये कीमत
गौरव ने बताया कि वर्तमान समय मे जो भी विदेशी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर है, कैपिसिटी के मुताबिक उसकी कीमत 80 हजार से डेढ़ लाख रुपये तक है। 15 एलएमपी के ऑक्सिजन कंसंट्रेटर की किमत करीब सवा लाख से डेढ़ लाख रुपये तक है, लेकिन इस देसी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर को बाजार में 60 हजार रुपये में बेचा जा सकता है। अभी बाजार बंद होने के कारण कई सामान महंगे कीमत पर मिले हैं, जिससे इसे बनाने में 61 हजार रुपये लागत आई है। स्थितियां सामान्य होने पर 40 हजार में इसे तैयार कर लिया जाएगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान से हैं प्रेरित

गौरव सिंह ने बताया कि प्रफेसर पी के मिश्रा के मार्गदर्शन और पीएम के आत्मनिर्भर भारत अभियान से प्रेरित होकर ये देसी ऑक्सिजन कंसंट्रेटर बनाया है। गौरव ने बताया कि जल्द ही इस ऑक्सिजन कंसंट्रेटर को बाजार में उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लाइसेंस के लिए सरकार को एप्लिकेशन दिया गया है।

Leave a Comment:
Facebook Google LinkedIn Twitter